Breaking News

लोकसभा चुनाव की मतगणना से पहले उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (गृह) दीपक कुमार और DGP प्रशांत कुमार ने लखनऊ में संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस की।

लोकसभा चुनाव की मतगणना से पहले उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (गृह) दीपक कुमार और DGP प्रशांत कुमार ने लखनऊ में संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस की। इस दौरान दीपक कुमार ने कहा, पूरी मतगणना की निगरानी CCTV से की जाएगी। हर केंद्र पर मीडिया सेंटर होगा। वहीं, DGP ने सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर जानकारी शेयर की।

दीपक कुमार ने कहा, सोशल मीडिया पर जो भी भ्रामक बातें चल रही हैं, उसका निराकरण ECI द्वारा किया जा रहा है। मतगणना के दिन भी सोशल मीडिया पर पूरी नजर रखी जाएगी। हर सेंटर हाल में एक ब्लैक और व्हाइट बोर्ड होगा, जिसमें प्रत्याशी का नाम और परिणाम दर्ज किया जाएगा।

हर केंद्र पर मीडिया सेंटर स्थापित होगा

लखनऊ में ACS गृह दीपक कुमार और DGP प्रशांत कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस की।
लखनऊ में ACS गृह दीपक कुमार और DGP प्रशांत कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस की।

ACS गृह ने बताया कि हर मतगणना केंद्र पर मीडिया सेंटर स्थापित किया जाएगा। मीडियाकर्मियों को कैमरा ले जाने की अनुमति होगी।​​​​​ उन्होंने कहा, कोई भी व्यक्ति या मीडियाकर्मी results.eci.in पर जाकर लेटेस्ट रिजल्ट की जानकारी पा सकता है।

बताया कि कल (4 जून) को सुबह 8 बजे मतगणना शुरू होगी। प्रदेश के सभी जिलों में चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है। धारा 144 लागू है और केवल पास धारक ही मतगणना स्थल के अंदर जा सकेंगे। किसी को भी विजय जुलूस निकालने की इजाजत नहीं दी जाएगी। सभी से अपील है, मतगणना को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने में मदद करें।

80 सीटों की मतगणना के लिए 81 सेंटर

यूपी के DGP प्रशांत कुमार ने बताया, 75 जनपद की 80 लोकसभा सीटों पर मतगणना के लिए 81 केंद्र बनाए गए हैं। ECI की गाइडलाइन के अनुसार सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। 3 लेयर में सुरक्षा व्यवस्था होगी। इनर मोस्ट की जिम्मेदारी CAPF करेगी, इसके बाद PAC तैनात होगी। सबसे बाहर का जनपद पुलिस का घेरा रहेगा।

सभी की मतगणना स्थल पर फ्रिस्किंग की जाएगी और महिलाकर्मी की चेकिंग महिला पुलिसकर्मी ही करेंगी। यातायात प्रबंधन भी किया जा रहा है। सेंसिटीव जोन में 112 नंबर की तैनात रहेगी। सोशल मीडिया मॉनिटरिंग की जा रही है, अफवाह फैलाने वाली या भ्रामक खबरों पर नजर रहेगी।

4 जून को होने वाली मतगणना के लिए प्रदेशभर में 81 सेंटर बनाए गए हैं।
4 जून को होने वाली मतगणना के लिए प्रदेशभर में 81 सेंटर बनाए गए हैं।

DGP ने कहा, इस बार चुनावी हिंसा की एक भी घटना पूरे 7 चरणों में सामने नही आई। मतगणना स्थल पर अनावश्यक जमावड़ा करने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। जो लोग क्राउड मोबिलाइजेशन की अपील कर रहे हैं, उनके विरुद्ध भी कार्रवाई होगी।

मतगणना के लिए प्रदेश में पुलिस उपायुक्त, अपर पुलिस उपायुक्त के अलावा 160 अपर पुलिस अधीक्षक तैनात होंगे। इसके अलावा, 476 पुलिस उपाधीक्षक, 2248 निरीक्षक, 12883 उपनिरीक्षक, 20876 मुख्य आरक्षी, 50697 आरक्षी, 6149 होमगार्डस की तैनाती होगा। CAPF की 145 कंपनी और PAC की 102 कंपनियां तैनात की जा रही हैं।

19 अप्रैल से 1 जूत तक 7 फेज में हुई वोटिंग

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए 16 मार्च से शुरू हुआ चुनाव प्रचार, 75 दिनों तक चला। 19 अप्रैल से 1 जून तक कुल 7 फेज में वोटिंग हुई। चुनाव की यह प्रोसेस कुल 43 दिन तक चली। उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों पर मतदान हो चुके हैं और 4 जून को मतगणना की जाएगी।

About admin

Check Also

लखनऊ की विकास नगर पुलिस ने दो चैन स्नेचर को गिरफ्तार किया।

लखनऊ की विकास नगर पुलिस ने दो चैन स्नेचर को गिरफ्तार किया। बदमाशों के पास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *