Breaking News

राजधानी लखनऊ में नाबालिग के साथ गैंगरेप:प्रेमी ने चार दोस्तों के साथ किया था अगवा; गैराज में बनाया था बंधक ?

ठाकुरगंज थाना पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। - Dainik Bhaskar

ठाकुरगंज थाना पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

लखनऊ के ठाकुरगंज इलाके में एक नाबालिग के साथ 5 युवकों ने गैंगरेप किया। इनमें उसका बॉयफ्रेंड भी शामिल था। उसने दोस्तों के साथ मिलकर पहले लड़की को अगवा किया, फिर मोटर गैराज में बंधक बनाया। यहीं पर गैंगरेप को अंजाम दिया।

वारदात के बाद नाबालिग की जब तबीयत बिगड़ने लगी तो उसे एक मंदिर के पास गेट के बाहर छोड़कर आरोपी भाग गए। जाते-जाते धमकी दी कि किसी को कुछ भी बताया तो जान से मार दूंगा। नाबालिग ने राहगीरों के सहारे परिजनों को सूचना दी।

परिवार वालों ने ठाकुरगंज स्थित गऊघाट चौकी में घटना की तहरीर दी। पुलिस ने सोमवार देर रात मामला दर्ज कर मंगलवार दोपहर को सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

गैंगरेप के सभी आरोपी आपस में दोस्त हैं।
गैंगरेप के सभी आरोपी आपस में दोस्त हैं।

बॉयफ्रेंड ने ही रची थी साजिश

डीसीपी पश्चिम दुर्गेश कुमार के मुताबिक नाबालिग के परिजन दिहाड़ी मजदूरी करके घर का खर्च चलाते हैं। नाबालिग की दोस्ती हिमांशु सोनी नाम के युवक से थी। उसने कपड़े खरीदने की बात में फंसाया। दोस्त साहिल की भी मदद ली और नाबालिग को गैराज पर ले गया। यहां हिमांशु के साथ साहिल, अनिल, वाहिद और समीर ने रेप किया। सभी को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

डीसीपी पश्चिम दुर्गेश कुमार।
डीसीपी पश्चिम दुर्गेश कुमार।

शादी की खरीदारी के बहाने बुलाया, बिरयानी में मिलाया था गोली

‘पीड़िता का कहना है कि हिमांशु सोनी आर्केस्ट्रा में गाना गाने का काम करता है। वह हमारे ही इलाके में रहता है इसलिए कुछ दिन जान पहचान के बाद उससे दोस्ती हो गई। उसने अपनी बातों में फंसाकर शादी का झांसा देकर मिलना शुरू कर दिया। तीन मई की रात नौ बजे अपने दोस्त साहिल को भेजा। उसने शादी के लिए कपड़े खरीदने की बात कहकर साथ चलने को कहा।

उसकी बातों में आकर पास ही स्थित गुरुदयाल के मोटर गैराज गई। यहां ई-रिक्शा चलाने वाले ड्राइवर सोते हैं। यहां हिमांशु के अलावा उसके ई-रिक्शा चलाने वाले दोस्त अनिल, वाहिद और समीर भी थे। बातचीत के दौरान सभी ने खाने के लिए बिरयानी मंगाने की बात कही। खाना खाने के बाद हम बेसुध हो गए। तभी सभी ने बारी-बारी से रेप किया।

जब मैं होश में आई तब सभी ने जान से मारने और बदनाम करने की धमकी दी। तबीयत बिगड़ते देख हमें घर के नजदीक बने एक मंदिर के पास ही छोड़कर भाग निकले। घटना के समय सात लोग मौके पर मौजूद थे। इनमें से 2 लोगों को नहीं पहचानती।’

पीड़िता ने पुलिस स्टेशन पहुंच कर सुनाई आपबीती।
पीड़िता ने पुलिस स्टेशन पहुंच कर सुनाई आपबीती।

पिता बोले- गहने भी रख लिए आरोपी

नाबालिग के पिता ने पुलिस को बताया कि कपड़ा खरीदने के लिए बेटी घर से पैसे भी लेकर गई थी। पांचों ने रेप के बाद उसके पास से 10 हजार रुपये नकद, एक जोड़ी सोने की झुमकी और एक सोनी की अंगूठी भी रख ली। आरोपियों ने उसे पूरी रात और अगले दिन दोपहर एक बजे तक बंधक बनाए रखा।

चौकी पुलिस पर समझौता करने का आरोप

पीड़िता की बहन ने बताया कि 3 मई की रात कुछ लोग आए थे। वह पता पूछने के बताने उसको ई-रिक्शा में बैठा लिए। परिजन गऊघाट चौकी गए तो पुलिस ने प्रेम प्रसंग का मामला बताकर समझौता करने का दबाव बनाया। सुनवाई न होने पर बडे़ अधिकारियों से शिकायत की। इसके बाद सभी के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

About admin

Check Also

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बैंच ने जनहित याचिका पर सुनवाई के बाद एक अपार्टमेंट व एक होटल के अवैध निर्माण ?

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बैंच ने जनहित याचिका पर सुनवाई के बाद एक अपार्टमेंट व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *