Breaking News

केबिलिंग ना होने के कारण से कटिया मार कर बिजली विभाग को चुना लगा रहे है, चककृपाराम मोहल्ले के लोग संविदा विद्युत विभाग कर्मचारियों के मिलीभगत से सब चल रहा है, खेल ।।

केबिलिंग ना होने के कारण से कटिया मार कर बिजली विभाग को चुना लगा रहे है, चककृपाराम मोहल्ले के लोग संविदा विद्युत विभाग कर्मचारियों के मिलीभगत से सब चल रहा है, खेल ।।

प्रयागराज ( सूरज गौड) आपको बता दें कि लगातार बिजली विभाग कदम उठा रही है, बिजली चोरी पकडने की लेकिन केबल ना लगने के कारण सूत्रों के अनुसार बिजली विभाग के कर्मचारियों के मिली भगत से खुले आम लोग कटिया मार रहे हैं,

ताजा जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि प्रयागराज के मामा भांजा तालाब रीवा रोड सब स्टेशन के कुछ एरिया का का हाल जैसे श्याम लाल पूर्वा रेल्वे क्रॉसिंग के आगे चककृपाराम मोहल्ला ( कुरिया) जहां ट्रांसफार्मर लगा हुआ है, वहाँ की स्थिति बहोत खराब है, ज्यादा तर लोगों के घर के बाहर देखने के लिए मीटर लटकता मिलेगा, लेकिन असली कहानी कुछ और ही है, सब कटिया से गोलमाल चल रहा है, ये सब सम्भव हो रहा है,

 

एरिया इंचार्ज विद्युत कर्मचारियों के वजह से, लाइट को लेकर खुलेआम कटिया मारी जा रही है, क्योंकि लोग सौ पचास देकर अपना सेटिंग बनाए हुए हैं, सेटिंग ऐसे की अगर इस एरिया मे बिजली विभाग के अधिकारी आते भी हैं, तो यहां के लोगों को पहले से बता दिया जाता है, कि कटिया निकाल लो अपना अपना, और इनकी सजा मिल रही है, आगे नए लोगों को जो बेचारे अपना मकान बनवा कर रहने लगे हैं,

क्योंकि बेचारे मकान बनवा कर तुरंत कनेक्शन ले रहे हैं, और उनसे सेटिंग नहीं बन पा रही है, यहां आने से कतराते हैं, संविदा विद्युत कर्मचारी, अब नए लोग बस तो रहें हैं, लेकिन बेचारे लाइट के लिए तरस रहे हैं, क्योंकि लो वोल्टेज की समस्या यहां नए बसने वालों को को हो रही है, क्योंकि फुल लाइट ना होने से पानी की समस्या और आए दिन बनी हुई है,

साथ इलेक्ट्रॉनिक समान जल रहे हैं, बिजली फुल ना होने के कारण , क्योंकि चककृपाराम मोहल्ले मे जहा ट्रांसफार्मर लगा हुआ उस जगह कटिया ही कटिया लगी हुई है, मजा आगे वाले ले रहे हैं, सजा नए बसने वाले लोगों को झेलना पड़ रहा है, क्योंकि कटिया वालों का बिल नए बसने वालों को देना पड़ रहा है, जो कनेक्शन ले रखें हैं, अब नए लोगों का कहना है कि हमे बराबर लाइट दे बिजली विभाग और समय पर सही बिल दे साथ ही पहले केबिलिंग कराया जाए ।।

About admin

Check Also

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बैंच ने जनहित याचिका पर सुनवाई के बाद एक अपार्टमेंट व एक होटल के अवैध निर्माण ?

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बैंच ने जनहित याचिका पर सुनवाई के बाद एक अपार्टमेंट व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *