Breaking News

जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा का शिकार है रुपईडीहा का स्वर्गधाम।

निष्प्रयोज्य है गरीबों का एक मात्र स्वर्गधाम।


रुपईडीहा बहराइच। दशकों से जनप्रतिनिधि आते व जाते रहे परंतु रुपईडीहा के शमशान घाट की ओर किसी ने नही देखा। लोग चुने गए ब्लॉक प्रमुखों प्रधान से भी कहते रहे। परंतु आपाधापी में स्वर्गधाम का जीर्णोद्धार कराने की ओर किसी ने ध्यान नही दिया।

आज के हालात ये हैं कि स्वर्गधाम में आदमी घुस तक नही सकता। दक्षिण दिशा की पूरी बाउंड्रीवाल गिर गयी। धीरे धीरे उसकी ईंटे गायब हो रही हैं। आवारा पशु इसमें घुस कर घास चरते रहते हैं। आसपास के लोगो ने इसमें कूड़ा फेंक कर कूड़ादान बना लिया है।

एक सप्ताह में कस्बे के तीन लोगों की अंत्येष्टि इसमें की गई। परंतु गंदे कीचड़ में जाकर लोगो ने क्रिया कर्म में भाग लिया। कस्बे के चकियारोड के दक्षिण दिशा में स्थित इसकी बाउंड्रीवाल तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख डॉ हरीश चंद ने कराई थी। अपने स्व0 पिता के नाम से सीमेंटेड गेट बनवा कर लोहे का दरवाजा लगवाया था। लोगो के बैठने के लिए एक बरामदा भी बनवाया था जो मरम्मत के अभाव में अब धीरे धीरे नष्ट होता जा रहा है।

दाहसंस्कार हेतु चबूतरा बनवाने के लिए भी कुछ लोगो ने प्रयास किया परंतु वह भी खंभों सहित खुली छत में मौजूद है। कई वर्ष पहले कस्बे के कुछ लोगो ने चंदा एकत्र कर इसका जीर्णोद्धार कराया था। परंतु अब देखभाल के अभाव में बड़ी बड़ी घास उग आयी है। यही नही कुश व सिकुर जैसी वनस्पतियां खड़ी हो गयी हैं। कीचड़ से गुजरते हुए लोग अंत्येष्टि करने पहुंच पाते हैं।

प्रदेश सरकार की नई नई घोषणाएं तो होती हैं। स्वर्गधाम बनाने की भी घोषणा हुई है। परंतु यहां किसी भी जनप्रतिनिधि ने कोई कार्य नही किया। अब रुपईडीहा नगर पंचायत का दर्जा प्राप्त कर चुका है।

इसके पूर्व कस्बे के लोगो ने सांसद, विधायक, ब्लॉक प्रमुख, जिलाधिकारी व प्रधान तक को इसका जीर्णोद्धार कराने के लिए लिखित व मौखिक प्रार्थनाएं की। परंतु नेपाल सीमा से सटे विकासोन्मुख रुपईडीहा कस्बे के स्वर्गधाम नही बन सका। कस्बे के संपन्न लोग परिजनों के अंत्येष्टि हेतु गायघाट या अयोध्या ले जाते हैं। परंतु गरीबो के लिए एक मात्र उजड़ा हुआ यही स्वर्गधाम है।

नानपारा के विधायक राम निवास वर्मा से यहां के गरीबों ने कई बार स्वर्गधाम का जीर्णोद्धार कराने के लिए कहा उन्होंने यही आश्वासन दिया कि बन जायेगा। प्रतिष्ठित व्यापारी विपिन अग्रवाल, रुपईडीहा व्यापार मंडल के अध्यक्ष विजय कुमार मित्तल, व्यापारी नेता सुशील बंसल व सभासद नरेंद्र मदेशिया आदि लोगो ने जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों से रुपईडीहा स्वर्गधाम का जीर्णोद्धार कराने की मांग की है।

नवसृजित रुपईडीहा नगर पंचायत के चेयरमैन डॉ उमाशंकर वैश्य से जब इस मामले में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उच्चाधिकारी 29 लाख से इसका जीर्णोद्धार कराने की बात कर रहे थे। परंतु मैंने इनकार कर दिया। मैंने अधिकारियों को 2 करोड़ 29 लाख का प्रस्ताव भेजा है। अब यह कार्य चुनाव के बाद ही हो सकेगा।

अब लोकसभा चुनाव भी सम्पन्न हो चुका है। अब देखना यह है कि रुपईडीहा स्वर्ग धाम के जीर्णोद्धार के लिए कौन कितना बात व प्रयास करेगा।

नीरज कुमार बरनवाल रुपईडीहा
5/6/2024

About admin

Check Also

लखनऊ की विकास नगर पुलिस ने दो चैन स्नेचर को गिरफ्तार किया।

लखनऊ की विकास नगर पुलिस ने दो चैन स्नेचर को गिरफ्तार किया। बदमाशों के पास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *