Breaking News

लखनऊ के बीकेटी में ट्रेन के सामने कूदकर जान देने वाले संविदाकर्मी लाइनमैन को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है।

लखनऊ के बीकेटी में ट्रेन के सामने कूदकर जान देने वाले संविदाकर्मी लाइनमैन को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। यह खुलासा मृतक की पत्नी ने किया है। पत्नी ने बताया कि ‘घर का बिजली बिल 300 रुपए था। जब अधिकारी घर पहुंचे तो पहले पूरे गांव के सामने बेइज्जत किया, फिर कनेक्शन काट दिया। हम लोग रातभर अंधेरे में रहे। जाते-जाते वो लोग धमकी भी दे गए कि शिकायत किया तो किसी काम का नहीं छोड़ेंगे।’

मृतक के पिता पुत्तू रावत कहते हैं कि मेरे बेटे गुलाब रावत (38) को सबसे ज्यादा जेई अजय कुमार, एसडीओ राज कुमार यादव और एसएसओ राहुल गौतम परेशान कर रहे थे। दो दिन पहले सब स्टेशन कठवारा से तीनों लोग आए थे। गुलाब को बोले कि बिजली की लाइन सही करनी है।

लड़के का ट्रांसफर अहिबरनपुर पॉवर हाउस होने से उसने जेई के साथ जाने से मना कर दिया। इसके बाद रात में अधिकारियों ने घर पर छापा मारा। बिजली चोरी का आरोप लगाकर केबिल काट दी। रंजिश इतनी कि 10 मई को तबादला किया, फिर उसे नौकरी से निकाल दिया। इसी बात से परेशान होकर वह ईंटेश्वर महादेव मंदिर के पास ट्रेन के सामने कूद कर अपनी जान दे दी।

अकेले उठाता था परिवार का खर्च

गुलाब पिछले कई सालों से बिजली विभाग में संविदा पर लाइनमैन का काम करता था। उसकी सैलरी 12 हजार महीना थी। पूरा परिवार उसी पर आश्रित था। उसके तीन छोटे बच्चे हैं। 10 साल की लड़की, 7 और 5 साल के दो लड़के। अभी बच्चों को ये भी नहीं पता है कि उनके पिता अब कभी वापस नहीं आएंगे। वो घर में पसरे मातम को देखकर गुमशुम हैं।

ऑफिस में भी हुई थी मारपीट

ऑफिस के एक कर्मचारी ने नाम उजागर न करने की शर्त पर कहा कि- बिजली विभाग में भी उसके साथ कई बार मारपीट हुई थी। वह जब ऑफिस आता उसे बात-बात में बेइज्जत किया जाता। कई बार उससे ओवर टाइम काम कराया जाता। जिस लोकेशन पर उसकी ड्यूटी नहीं रहती वहां भी भेजा जाता। ट्रांसफर के बाद वह काफी परेशान था।

7 घंटे ऑफिस में धरना, कार्रवाई के लिए अड़े रहे परिजन

मृतक संविदा कर्मी गुलाब की मौत की खबर होने के बाद बड़ी संख्या में गांव वालों और परिजनों ने बक्शी का तालाब स्थित कठवारा बिजली विभाग कार्यालय को घेर लिया है। करीब 7 घंटों तक वहां मौजूद रह कर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान मृतक के परिजन मामले का खुलासा कर आरोपियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे।

कार्रवाई को लेकर अड़े परिजनों ने बिजली विभाग कार्यालय पर दिया धरना
कार्रवाई को लेकर अड़े परिजनों ने बिजली विभाग कार्यालय पर दिया धरन

घटना के गांव के लोगों में गुस्सा

घटना के बाद से ग्रामीण और मृतक के परिजनों में गुस्सा है। उनका कहना है कि गुलाब को जब परेशान किया जा रहा था तब किसी अधिकारी ने ध्यान नहीं दिया। इसी वजह से उसने ऐसा कदम उठाया है।

दो सदस्यों की कमेटी करेगी जांच

बीकेटी मंडल बिजली विभाग के सीनियर अधिकारी ए.के राय का कहना है कि परिवार ने जो आरोप लगाए हैं, उसकी जांच की जा रही है। इसके लिए एक कमेटी भी बनाई गई है। कमेटी में एक्सईएन टेस्ट सुबोध कुमार झा और एक्सईएन रहीमनगर अक्षय सिंह को शामिल किया गया है। दोनों सदस्य 3 दिन में जांच रिपोर्ट सौंपेंगे। रिपोर्ट के आधार पर दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

घटना की तस्वीरों से समझिए पूरा मामला​​

1.कर्मचारी के कूदने की सूचना मिलते ही ट्रेन को रोक दी गई थी

2.घटना स्थल पर बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हुए, फिर शव को ट्रैक से बाहर लाया गया था

3.बक्शी का तालाब स्थित कठवारा बिजली विभाग के कार्यालय पर लोग इकट्ठा हो गए थे

4.लोगों ने कार्रवाई की मांग को लेकर बिजली विभाग के कार्यालय में जमकर हंगामा किया

5.घेराव के दौरान मृतक की पत्नी बेहोश हो गई थी

6.पुलिस लोगों से पूछताछ करने के बाद शिकायत लिखी, शिकायत में पिता ने कई आरोप लगाए हैं

7.परिवार के लोगों ने पुलिस को एक आवेदन दिया है, दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है

About admin

Check Also

लखनऊ की विकास नगर पुलिस ने दो चैन स्नेचर को गिरफ्तार किया।

लखनऊ की विकास नगर पुलिस ने दो चैन स्नेचर को गिरफ्तार किया। बदमाशों के पास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *